बच्चे से माँ का दूध की आदत छुड़ाने के उपाय, बच्चे से स्तनपान की आदत कैसे छुड़ाए,

बच्चे से माँ का दूध (स्तनपान) कैसे छुड़ाए, नवजात शिशु के लिए माँ का दूध ही पहला आहार और उत्तम आहार होता है। नवजात शिशु के लिए माँ का दूध अमृत के समन हे होता हे।  इसलिए छः माह तक बच्चे को केवल माँ का दूध ही देना चाहिए। डॉक्टर भी यही सलाह देते हे, माँ के दूध में सभी पोषक पदार्थ मौजूद होते हे इस लिए बच्चे को कुछ और ऊपर से देने की जरुरत नहीं होती हे।

हिन्दू बच्चो के नाम की लिस्ट 

क्या आप भी अपने बड़े हो चुके बच्चे से माँ का दूध छुड़ाना चाहते हे ? दोस्तों इस लेख में हम आपको बच्चे से माँ के दूध की आदत को छुड़ाने के उपायों के बारे में जानकरी देंगे। जो बच्चे बड़े हो चुके हे और अभी तक माँ का दूध नहीं छोड़ रहे हे, तो आपको भी अब अपने बच्चे से स्तनपान की आदत को छुड़ाना चाहिए , आगे हम स्तनपान से जुड़े पहलुओं पर चर्चा करेंगे।

बच्चे से माँ का दूध (स्तनपान) कैसे छुड़ाए

बच्चे से माँ का दूध छुड़ाना क्यों आवश्यक होता है

बच्चे से सही समय पर स्तनपान की आदत छुड़ाना आवश्यक हे क्योकि बच्चे अन्ये आहार पर निर्भर नहीं हो पाते हे एसे मे बच्चे का शरारिक विकास प्रभावित होता हे । स्तनपान छुड़ाने के निम्न कारण होते हे

  • बच्चे मे उम्र के हिसाब से पोषण की भरपूर मात्रा मिल सके
  • बच्चा माँ के दूध के अलावा अन्ये आहार पर निर्भर हो सके
  • माँ को बच्चा परेशान करने से माँ चिड़चिड़ापन का शिकार होने लगती हे
  • माँ ओर बच्चे मे शारीरक कमजोरी महसूस होने लगती हे
  • भरपूर मात्र मे दूध न मिलने से बच्चा भूखा रेह जाता हे
  • यदि माँ किसी कारण से बच्चे को दूध पिलाने मे असमर्थ हो
  • कामकाजी महिलाओं के किए सही समये पर बच्चे से स्तनपान छुड़ाना आवशयक हे

बच्चे से माँ का दूध छुड़ाने का सही समय क्या है

डॉक्टर के अनुसार शिशु के जन्म से छ माह तक माँ का दूध ही शिशु को देना चाहिए । छे महीने के बाद आप बच्चे को ऊपर से कुछ आहार दे सकते हे । यदि बच्चा ऊपर से कुछ आहार लेने लगे तो आपको धीरे धीरे करके दूध छुड़ाने पर विचार करना चाहिए ।

बच्चे के एक साल के होने के बाद बच्चे से स्तनपान की आदत को छुड़ाना ही सही निर्णय होगा। यदि बच्चे मे या माँ मे कोई शारीरिक कमी हो तो आपको पहले डॉक्टर की सलाह लेना अवशयक होगा । ओर डॉक्टर की सलाह से ही कार्ये करना चाहिए

बच्चो की नज़र कैसे उतारे 

बच्चे से माँ का दूध की आदत छुड़ाने के उपाय

यहाँ हम बच्चो से माँ का दूध छुड़ाने के उपायो की चर्चा करेंगे । यह कुछ धरेलु उपाय हे जिनसे शिशु से स्तनपान की आदत छुड़ाना बहुत ही आसान हो जाता हे। नीचे हम स्तनपान छुड़ाने के बारे मे कुछ धरेलु उपाय बताएँगे ।

  1. बच्चे को माँ के दूध के अतिरिक्त धीरे धीरे अन्ये आहार दे, ऊपर से हल्का फुल्का आहार दे सकते हे
  2. बच्चे को माँ का दूध छुड़ाने से पहले बोतल से या  चम्मच से ऊपर का दूध देना शुरू करे
  3. जब बच्चा माँ का दूध पिन की कोशिश करे तो माँ को बच्चे का ध्यान अन्ये आहार पर लगाने पर ज़ोर दे
  4. जब बच्चा स्तनपान की जिद करे तो बच्चे का ध्यान बटकने के लिए उसे बहलाए
  5. बच्चा रात के समय ज्यादा माँ के दूध की जिद करता हे , एसे मे बच्चे को अपने से दूर सुलाये
  6. बच्चे को सोने से पहले भरपूर मात्रा मे आहार दे , ताकि उसे रात को स्तनपान की जरूरत न हो
  7. फिर भी बच्चा जिद करे तो स्तन पर नीम के पत्तों का लेप करने से बच्चा कडवेपन के कारण दूध मुह मे नहीं ले पाएगा । ओर इसका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं हे
  8. एलोवीरा का फ्रेश पल्प भी स्तन पर लगा सकते हे । बच्चा इसके स्वाद से ही माँ के स्तन से दूरी बनाने लगेगा ।
  9. यदि फिर भी बच्चा बहुत ज्यादा स्तनपान की ज़िद करे तो डॉक्टर से सलाह लिए बिना कोई दवाई का इस्तेमाल न करे ।

स्तनपान छुड़ाने के बाद माँ को होने वाली कुछ कॉमन प्रोब्लेम्स

माँ दुवारा बच्चे को स्तनपान कराने को वीनिंग कहा जाता हे। बच्चे से माँ का दूध छुड़ाने से कई महिलाओं को कुछ सामान्ये समस्याए होती हे जिन मे से कुछ नीचे दी गयी हे

  • स्तनो ने दर्द का होना
  • स्तनो मे दूध की गांठ पड़ना
  • नसो मे अधिक द्रव होने से स्तनो मे सूजन ओर दर्द जेसी समस्याएं होती हे।
  • माँ का तेजी से वजन बढ़ाना
  • अधिक मासिक धर्म

यदि आपको इसमें से कोई भी समस्या हो तो,  आपको जल्द डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए , डॉक्टर आपको दूध सूखने की दवाई भी सजेस्ट कर सकता हे लेकिन बिना डॉक्टर की सलाह से कोई भी दवाई न ले। इन उपायों को कुछ दिनों तक अपनाने से यक़ीनन जल्द ही बच्चा स्तनपान की आदत छोड़ देगा।

Leave a Comment

error: Content is protected !!