buri nazar se bachne ka raksha mantra

buri nazar se bachne ka raksha mantra|यह मन्त्र बुरी नज़र से बचाता हे

buri nazar se bachne ka raksha mantra-दोस्तों आप में से बहुत से लोग भगवान पर भरोसा नहीं करते होंगे ऐसे लोगो को नास्तिक कहा जाता हे लेकिन बहुत से लोग भगवान और शैतान दोनों पर भरोसा करते हे | दुनिया में अच्छी और बुरी दोनों शक्तियां होती हे |

नज़र लगना भी एक बुरी शक्ति हे , बुरी नज़र व्यक्ति के जीवन पर नकारात्मक प्रभाव डालती हे | मानसिक और शारीरिक कष्ट देती हे साथ ही साथ किसी दुर्घटना का कारण बन सकती हे | व्यवसाय में हानि दे सकती हे

बुरी नज़र घर में कलेश का कारण बन सकती हे, बच्चे पर नज़र का प्रभाव जल्द और अधिक होता हे बच्चो की नज़र उतरने के बहुत तरीके हे जिनकी हम निचे चर्चा करेंगे

यह भी पढ़े – लड़की पटाने का वशीकरण मंत्र

लेकिन में आपको नज़र उतारने का सबसे कारगर और प्रभावी मंत्र बताऊंगा |

दुनिया में कुछ लोग अच्छे भी होते हे,तो कुछ लोग बुरे भी होते हे | हमें यह नहीं भूलना चाहिए की दुनिया ने अच्छी के साथ साथ बुरी ताकत भी होती हे | जोकि किसी गलत नियत से  पैदा होती हे | बुरी नजर भी ऐसी ही एक बुरी ताकत हे

बुरी नजर अक्सर उन लोगो की लगती हे जोकि आपका बुरा चाहते हो या फिर उनके मन में कोई पाप को किसी के लिए जलन की भावना हो ऐसे लोग जो दूसरे से घृणा या बुराई रखते हो उनकी नजर लगना स्वभाविक हे |

buri nazar se bachne ka raksha mantra

नज़र उतारने का मंत्र

यह मंत्र  100 % काम करेगा इस मन्त्र के उच्चारण मात्र से ही बुरी नज़र की प्रभाव तुरंत दूर हो जायेगा | यह मंत्र बच्चो और बड़ों पर सामान कार्य करेगा | – buri nazar se bachne ka raksha mantra

ॐ नमो नजर जहाँ पद पीर न जानो |

बोले छल सों अमृत बानी |

कहो नजर कहाँ ते आई |

यहाँ की ठौर तोहि कौन बताई |

कौन जात तेरी , कहाँ ठाम |

किसकी बेटी क्या तेरो नाम |

कहाँ से उड़ी , कहाँ की जाया |

अब ही बस कर ले तेरी माया |

मेरी जात सुनो चितलाय |

जैसी होय सुनाऊँ आय |

तेलन ,तमोलन, चुहड़ी , चमारी |

कायथनी, खतरानी , कुम्हारी |

महतरानी, राजा की रानी |

जाको दोष ताहि सिर पड़े |

जाहर पीर नजर ते रक्षा करे |

मेरी भक्ति, गुरु की शक्ति |

फुरे मंत्र ईश्वरो वाचा ||

मंत्र उच्चारण विधि

इस मन्त्र को सही विधि से उच्चारण करना बहुत जरुरी हे नहीं तो यह मंत्र काम नहीं करेगा | इस लिए मन्त्र कैसे,कब और कहाँ प्रयोग करना हे जान ले

  • सुबह या शाम को अँधेरा होने से पहले और सूरज निकलने के बाद समय सुबह 6 बजे से 9 बजे के पहले ,शाम को 4 बजे बाद और 7 बजे से पहले मंत्र उच्चारण का सही समय हे |
  • शंकर जी की मूर्ति के सामने दिया जला कर एक बार मंत्र का उच्चारण करे और जो व्यक्ति नज़र के प्रभाव में हे उस पर फुके 3 बार
  • लाल कपडे पर शंकर जी की मूर्ति या फोटो रखे और नहाने के बाद ही मन्त्र का उच्चारण करे| चाँवल के दाने भी लाला कपडे पर रखे
  • जो महिला मासिक धर्म में हो उसे पास न आने दे और ऐसी स्त्री मन्त्र उच्चारण न करे |
  • मोर पंखी का झाड़ू बनाकर रोगी को सर से पैर तक झाड़े दे 3 बार,मोर पंखी नहीं होतो चाकू की नोक से झाड़े दे सर से पैर तक छूते हुए

विशेष आग्रह – यह ग्रामीण अँचलों में प्रचलित नज़र उतारने की पद्धति है। इस पर विश्वास करना या न करना पाठकों के विवेक पर निर्भर करता है।

READ MORE ARTICLES

लड़की पटाने का वशीकरण मंत्र

Social Share

Leave a Comment