website traffic kaise badhaye

website ki traffic kaise badhaye jankari hindi me

website traffic kaise badhaye

हेलो दोस्तों मुझे ब्लॉग्गिंग करते हुए बहुत टाइम हो गया हे

और में आज आपको बताऊंगा की कैसे हम अपने ब्लॉग पर यूजर या व्यूज बड़ा सकते हे

और अपनी वेबसाइट पर ट्रेफिक इनक्रीस कर सकते हे

यह में बहुत सरे तरीके बताने जा रहा हु जिस की हेल्प से आप अपनी वेबसइट  की रेंक और पेज व्यूज बड़ा सकते हे

organic traffic kaise badhaye

वेबसाइट पर ट्रैफिक कई रिसोर्सेस से आता हे

जैसे की google organic traffic ,bing organic

referral traffic ,social traffic ,direct traffic

इन सब माध्यमों से किसी वेबसाइट या वेब पेज पर ट्रैफिक या यूजर आते है

में यहां में आपको बताऊंगा की कैसे हम इन सब माध्यमों का उपयोग करके

अपनी वेबसाइट के लिए यूजर इनक्रीस कर सकते हे

में यह विस्तार से इन सभी माध्यमों पर चर्चा कर आपको समझूंगा

की कैसे अपनी वेबसाइट को रैंक और सर्च में लाये ताकि आपकी वेबसाइट पर व्यूज और यूजर बड़े

जिससे आपकी साइट का ट्रैफिक इन्क्रेसी हो सके

website traffic kaise badhaye

google organic search kya he 

सभी को पता हे जो भी ब्लॉग लिखता हे

या जिसने अपनी वेबसाइट बनायीं हे

गूगल आर्गेनिक सर्च की कितनी बड़ी भूमिका हे

किसी वेबसाइट को ट्रैफिक देने ले लिए | गूगल ऑर्गेनिक सर्च का मतलब हे

की आपकी वेबसाइट के किसी कीवर्ड या पेज या किसी आर्टिकल को गूगल में किसी ने सर्च किया हो

और गूगल के द्वारा वो पर्टिकुलर वेबपेज या वेब आर्टिकल पर आया हो गूगल आर्गेनिक सर्च कहलाता हे

google organic search kya he 

यहां फोटो में आपको गूगल के सर्च बॉक्स में तो कीवर्ड दिखाई दे रहा हे और निचे जो रिजल्ट शो हो रहे हे वो गूगल आर्गेनिक सर्च कहलाते हे और ऑर्गेनिक सर्च ट्रेफिक उन वेबसाइट को मिलता हे जिनका पेज या पोस्ट गूगल में रेंक करती हे पहले पेज पर

दोस्तों गूगल पर पहले पेज पर रंक के बहुत से तरीके हे जैसे की बैकलिंक क्रिएट करके ,अपनी वेबसइट पर ऑन पेज seo करके ,यूनिक आर्टिकल और कीवर्ड का यूज़ करके भी आप अपनी वेबसाइट को रेंक कर सकते हे और सच मानिये ब्लॉग्गिंग कॅरिअर में सफल होना हे तो आर्गेनिक वो भी गूगल आर्गेनिक सर्च से ट्रैफिक तो लाना ही होगा

bing organic search

बिंग आर्गेनिक सर्च भी गूगल के सामान ही हे बस फर्क इतना ही हे की आपको गूगल की तरह बिंग वेबमास्टर टूल में अपनी वेबसाइट सबमिट करनी होगी और sitemap भी सबमिट करना होगा |

बिलकुल वैसे ही जैसे गूगल वेबमास्टर टूल में हम सबमिट करते हे | बिंग में वेबसाइट रैंक आसानी से हो जाती हे क्योकि वहा गूगल जितना कॉम्पिटिशन नहीं होता हे पर वहा से हमें गूगल जितना सर्च रिजल्ट और टैफिक नहीं मिलेगा  लेकिन एक सोर्स हे बिंग भी गूगल  तरह व्यूज पाने का

social media and social site se traffic kaise badaye

सोशल मिडिया जैसे की फेसबुक ,ट्विटर ,इंस्टाग्राम ,लिंक्डइन,whatsapp सभी सोशल साइट हे और एक रिसोर्सेस हे ट्रैफिक पाने का और एक अच्छा प्लेटफॉर्म हे रंकिन ऑफ़ वेबसइट वेबसाइट को बैकलिंक और moz रेंक बढ़ाने में बहुत बढ़िया तरीका हे – website traffic kaise badhaye

social media and social site se traffic kaise badaye

अधिक से अधिक अपनी वेबसाइट ,urls ,वेब पेज ,आर्टिकल ,की सोशल मीडिया पर शेयर करे जरूर आपका फरफिक इंक्रीसेस होने लगेगा

direct traffic kya he or  kaise badaye apne blog par

डायरेक्ट ट्रेफिक आपको बुकमार्किंग (bookmark )साइट से मिलेगा बहुत सी bookmark site अवेलेबल हे गूगल पर यहाँ में कुछ टॉप पेज ऑथोर्टी वाली साइट के लिंक दे रहा हु google bookmark plurk , fark

इस लिंक पर जाकर आप अपने वेब पेज ,और पोस्ट सबमिट और बुक मार्क कर सकते हे

Bizsugar.com,  Folkd.com ,Fark.com, Newsvine, Slashdot.org, Delicious,Scoop.it

जब आप इन सब बुकमार्किंग साइट पर अपनी वेबसाइट सबमिट करेंगे तो आपको बैकलिंक भी मिलेगा जिससे आपकी alexa रेंक और moz रेंक भी बढ़ेगी साथ ही ट्रैफिक भी इनक्रीस  होगा

MORE ARTICLE

website me backlink kaise create kare best tarika

apni website kaise banaye hindi me

google me apni website kaise sumbit kare

google par sitemap kaise submit kare

9 thoughts on “website traffic kaise badhaye”

    • ha bing se apki seo better hoti he or google se jaldi apki website bing par rank hoti he
      kyoki google par competition jayada he bing se ,search engine par to definitely apko waha se trefic jarur milega

  1. Meyer & Depew are dedicated heating and air-con contractors working day by
    day in West New York, NJ. We’ve got been serving to homes and enterprise primarily
    based in West New York with all of their heating and air conditioning
    needs for over half a century.

Leave a Comment